बीकानेर Bikaner


बीकानेर Bikaner

  • बीकानेर राजस्थान में प्लास्टर ऑफ पेरिस के निर्माण का सबसे बड़ा केन्द्र है |
  • बीकानेर जिला कूलर उद्योग के निर्माण हेतु प्रसिद्ध है |
  • राज्य में सर्वप्रथम फव्वारा पद्दति की शुरुआत भी लूँणकरणसर तहसील से ही मानी जाती है |
  • बीकानेर शहर ‘पाटा संस्कृति’ के लिए प्रसिद्ध है |
  • बीकानेरी बोली में अध्धो, पुणो, झांप, टिक्लिया आदि नाम के आकार के सूचक है जबकि रंगों और स्वरूपों की पहचान के लिए कोयल, फरियल, आखला, पकड़ो, टीकल, पुछड, आदि नाम प्रचलित है |
  • 26 जनवरी 1946 26 जनवरी 1946 को राज्य में स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाया जाता है |
  • अप्रेल 1947 में केंद्रीय संविधान सभा में राजस्थान की और से सम्मिलित होने वाला बीकानेर प्रथम राज्य है |
  • अलख सागर – बीकानेर सा सबसे बड़ा कुआं माना जाता है |
  • पलाना – यहाँ लिग्नाईट कोयले का सर्वाधिक उत्पादन होता है
  • विसरासर – यहाँ भारत की सबसे बड़ी जिप्सम कम्पनी स्थित है
  • धोराँ रो धोरी ( टिब्बो का समीहा ) – राजस्थानी कथाकार श्री नथमल जोशी का लिखित यह उपन्यास लुईस पियो तेस्सितोरी की जीवनी पर आधारित है |
  • बीरदार – देशनोक स्थित करणीमाता मंदिर का पुजारी
  • सुंधा – बीकानेर में पायी जाने वाली यह जाति जमीन सूंघकर यह बता देती थी की जमीन में खारा पानी है यह मीठा |
  • धूंआ भाछ – गृह कर, बीकानेर में वसूल किया जाता था |
  • भुजिया –महराना डूंगरसिंह के शासन काल में बीकानेर में भुजिया बनानेकी शुरुआत हुई |
  • जमुनाप्रसाद पांडे – इन्हें नृत्य विशारद एवं नटराज की उपाधि मिली |
  • चिन्दा – बीकानेर में आखातीज ( अक्षय तृतीय ) के पर्व पर एक विशेष प्रकार की पतंग चिन्दा उड़ाने का रिवाज है |
  • रामदेव मिश्रा – साक्लिंग के कोच , इनके प्रयासों से राजस्थान का एकमात्र वेलोड्रम बीकानेर बना , उपनाम-मोडजी |
  • विजयशंकर व्यास – अंतर्राष्ट्रीय स्तर के ख्यातिप्राप्त अर्थशास्त्री इनमे निर्देशन में राजस्थान में हंगर प्रोजेक्ट प्रारम्भ हुआ |
  • शार्दुल सिंह – इनमे शासनकाल में 26 अक्टूम्बर 1944 में बीकानेर दमन विरोधी मनाया गया जो राज्य का प्रथम सार्वजनिक प्रदर्शन था |